चंडीगढ़

चंडीगढ़ निगम में भारत की पहली हार: बीजेपी के संधू 19 वोटों के साथ बने.सीनियर डिप्टी मेयर

चंडीगढ़ के वरिष्ठ उपमहापौर 

चंडीगढ़ में सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर के चयन की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. वोटों की गिनती के बाद चंडीगढ़ निगम चुनाव में इंडिया अलायंस को हार का सामना करना पड़ा. सीनियर डिप्टी मेयर के लिए बीजेपी के संधू को 19 वोट मिले, जबकि आप-कांग्रेस के उम्मीदवार गुरप्रीत सिंह गब्बी को 16 वोट मिले. इस चुनाव के लिए मेयर कुलदीप कुमार को निर्वाची पदाधिकारी बनाया गया है. कुलदीप आम आदमी पार्टी (आप) के पार्षद हैं, लेकिन कांग्रेस के समर्थन से मेयर बने। हालांकि, इससे पहले चुनाव अधिकारी अनिल मसीह ने 8 वोट खारिज कर बीजेपी के मनोज सोनकर को मेयर बना दिया था. फिर जब मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा तो कुलदीप कुमार को विजेता घोषित कर दिया गया.

 

मेयर चुनाव के दौरान AAP-कांग्रेस गठबंधन को बहुमत हासिल था. उनके पास 20 वोट थे, जबकि बीजेपी सांसदों और अकाली दल के पास कुल मिलाकर 16 वोट थे.लेकिन मेयर चुनाव के बाद 3 पार्षद आप छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए. इसके बाद अब भाजपा के पास 17 पार्षद, एक सांसद और अकाली दल के एक पार्षद समेत 19 वोट हो गए हैं।

यह भी पढ़ें ...  हरियाणा में एसीएस स्तर के अधिकारियों को मिलेंगे इलेक्ट्रिक वाहन

 

इसके साथ ही ‘आप’-कांग्रेस के पास अब सिर्फ 17 वोट बचे हैं, जिसमें ‘आप’ के पास 10 और कांग्रेस के पास 7 वोट हैं. गठबंधन समझौते के मुताबिक आप ने सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर का पद कांग्रेस को दिया था.

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button