हरियाणा

44 प्रतिशत जीएसटी ग्रोथ के साथ देशभर में हरियाणा का सबसे आगे होना गठबंधन सरकार की प्रोग्रेसिव सोच का परिणाम – डिप्टी सीएम

चंडीगढ़, 10 दिसंबर। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि प्रदेश की गठबंधन सरकार ने पिछले चार सालों में प्रदेश हित में निरंतर कार्य करके हरियाणा को प्रगति के पथ पर अग्रसर किया है। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा 44 प्रतिशत जीएसटी वृद्धि के साथ देशभर में सब राज्यों से आगे है और यह गठबंधन सरकार की प्रोग्रेसिव सोच को दर्शाता है। वे रविवार को करनाल दौरे के दौरान पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जेजेपी ने पिछले पांच साल में संगठन मजबूती के लिए जो-जो कदम उठाए है, उससे संगठन को मजबूती मिली है और कार्यकर्ताओं में जोश और उत्साह है। उन्होंने कहा कि इस 20 दिसंबर तक जेजेपी का प्रदेशभर में सदस्यता अभियान जारी रहेगा। इसके तहत जेजेपी द्वारा प्रत्येक बूथ पर 25 नए सदस्यों को जोड़ा जा रहा है और प्रदेश में पांच लाख नए सदस्य बनाने का लक्ष्य को हासिल किया जाएगा। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता से घर-घर जाकर जनहितैषी कार्यों का प्रचार-प्रसार करने का आह्वान किया है।

यह भी पढ़ें ...  कुरूक्षेत्र के चुनावी महासमर में कौन बनेगा जीत की गाडी का गडवाला, लोकसभा सीट पर चुनावी चक्रव्यूह में कौन किस पर पड़ेगा भारी

 

असंध हलके के गांव फफड़ाना में आयोजित सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि वर्तमान सरकार ने देश और प्रदेश में युवाओं के लिए रोजगार के बेहतर अवसर प्रदान किए हैं। उन्होंने कहा कि बड़े उद्योगों को सरकार ने हरियाणा की और प्रेरित करने का काम किया है। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि युवाओं के लिए रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने की दिशा में मारुति, बिरला ग्रुप जैसी कंपनियों ने हरियाणा प्रदेश में अपनी औद्योगिक इकाइयां लगाने का काम शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि पद्मा योजना के तहत निरंतर छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने का काम भी प्रदेश सरकार कर रही है। डिप्टी सीएम ने प्रदेश के युवाओं से विशेष रूप से अपील की कि वे दूसरे देशों में जाने की बजाय अपने प्रदेश या देश में तरक्की के अवसर अपनाएं।

 

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के दौरान किसानों को दो-दो रुपए मुआवजा राशि के तौर पर मिलते थे लेकिन मौजूदा राज्य सरकार ने किसानों के हित की और ध्यान देते हुए मुआवजा राशि 15 हजार रुपए प्रति एकड़ तक करने का काम किया। उन्होंने कहा कि अब किसान जब फसल मंडी में बेचकर आता है तो उसकी फसल के पैसे दो दिन के अंदर-अंदर ही उसके बैंक खाते में आ जाते हैं और इससे किसान वर्ग की ताकत बढ़ी है।

 

यह भी पढ़ें ...  कुपोषण दूर भगाने के पंचकूला में NFI द्वारा चलाया अभियान,महिलाओं को बांटी निशुल्क दवाइयां

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि असंध क्षेत्र की 15 सड़कों के जीर्णोद्धार कार्य के लिए 25 करोड़ की राशि पिछले चार वर्षों में जारी की जा चुकी है। इसी कड़ी में असंध से कैथल मार्ग की सड़क के लिए केन्द्र सरकार से 83 करोड़ रुपये की राशि जारी करवाने का काम सरकार ने किया है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button