हरियाणा

हरियाणा पैवेलियन में हरियाणवी संस्कृति का मचा धमाल, उमड़ी अपार भीड़

कुरुक्षेत्र, 23 दिसम्बर । मेरा दामन सिवा दे, ओ ननदी के बीरा की धूम रही हरियाणा पैवेलियन में बने हरियाणवी सांस्कृतिक मंच पर। बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2023 में कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड एवं कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरूक्षेत्र द्वारा आयोजित हरियाणवी सांस्कृतिक मंच पर हरियाणवी लोकगीत, रागनियां, भजन तथा हरियाणवी वाद्य यंत्रों का श्रोताओं ने खूब आनंद लिया।

 

कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरूक्षेत्र के युवा एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग के निदेशक डॉ. महासिंह पूनिया के संयोजन में सांस्कृतिक कार्यक्रम कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरूक्षेत्र के विद्यार्थियों द्वारा हरियाणवी गीत व डांस प्रस्तुत किया गया। इस कार्यक्रम में मंच का संचालन कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरूक्षेत्र के सहायक निदेशक हरविन्द्र राणा व प्रोफेसर आबिद अली द्वारा किया गया। इस अवसर पर हरियाणा पैवेलियन में डॉ. ज्ञान चहल और डॉ सुशील टाया उपस्थित थे। सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान प्रात: 11 बजे हरियाणवी पैवेलियन में मौजूद सभी लोगों द्वारा एक मिनट एक साथ गीता पाठ किया गया। इस सांस्कृतिक मंच पर सारंगी पार्टी ने अपने लोकगीतों की धुन पर अपनी बेहतरीन प्रस्तुति दी। महिला कलाकारों द्वारा प्रस्तुत गीत मोह-माया के चक्कर में, नाम हरि का भूल गई के द्वारा वर्तमान समय में मनुष्य किस तरह अपने दैनिक जीवन में प्रभु नाम सिमरण को छोड़कर मोह-माया में फंसा हुआ है, इसके बारे में बखान किया और श्रोताओं को हरि का नाम प्रतिदिन लेने के लिए प्रेरित किया गया।

यह भी पढ़ें ...  शंभू बॉर्डर पर किसान की मौत, देखें हरियाणा-पंजाब बॉर्डर पर ताजा हालात

 

हरियाणा पैवेलियन में आयोजित कार्यक्रम में सपेरा पार्टी ने लोक धुनों की प्रस्तुति पर खासकर बुजुर्गों ने खूब आनंद उठाया। इसी मंच पर प्रस्तुति मेरे सिर पर बंटा टोकनी, हरियाणवी गीत पर महिला कलाकारों द्वारा सामूहिक नृत्य की प्रस्तुति से पूरा पंडाल हरियाणवी संस्कृतिमय हो गया। इस प्रस्तुति की कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों ने प्रशंसा की और इसका भरपूर आनंद भी लिया। इसी प्रकार कार्यक्रम में युवा कलाकारों द्वारा छौरा मैं हरियाणे का, गीत के द्वारा हरियाणवी युवाओं के बारे प्रस्तुति दी। कार्यक्रम के दौरान प्रस्तुत गीत, तेरे नयन चमक तलवार चाल नागिन सी पर युवा झूमने पर मजबूर हो गए। इसके अलावा जीजा तू काला, मैं गोरी घणी तथा कच्ची घोडी डांस की भी कलाकारों द्वारा बेहतरीन प्रस्तुति दी गई।

 

सांस्कृतिक मंच पर मनोज झाले एण्ड ग्रुप, संदीप एण्ड ग्रुप, सपेरा पार्टी, सांरगी पार्टी, राकेश थानिया द्वारा रागनी, कमलेश मोर एण्ड पार्टी द्वारा अपनी प्रतिभा का बेहतरीन प्रदर्शन मंच पर किया गया। कार्यक्रम के दौरान डॉ. महासिंह पुनिया ने हरियाणवी संस्कृति और किसानी से संबंधित सवाल श्रोताओं से पूछे और जिन श्रोताओं ने सही सवालों के सही जवाब दिए उन्हें इनाम के तौर पर दो-दो लड्डू देकर उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कहा कि हरियाणवी संस्कृति की हरेक विधा पर हमें गर्व होना चाहिए। हमारी संस्कृति बहुत ही सभ्य है और जिसकी जानकारी हमारे बच्चों व युवाओं को अवश्य होनी चाहिए ताकि हम अपनी आने वाली पीढ़ियों को इस अनमोल धरोहर को दे सकें और वे हमारी संस्कृति को आगे बढ़ा सकें।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें
यह भी पढ़ें ...  ऑटो चालकों को जारी होगा चार अंक का यूनिक कोड, रहेगी नजर

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button