पंजाब

विजिलेंस ब्यूरो ने प्रेस रिपोर्टर को 1,00,000 रुपये की रिश्वत लेते हुए किया गिरफ्तार

चंडीगढ़, 10 अक्टूबर: पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने राज्य में भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रहे अभियान के दौरान शुक्रवार को लुधियाना से प्रकाशित होने वाले एक समाचार पत्र के रिपोर्टर अनिल विज को 1,00,000 रुपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया।

 

विजिलेंस ब्यूरो के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह खुलासा करते हुए कहा कि आरोपी पत्रकार को ऋषि बालमिक नगर, लुधियाना के निवासी सुरिंदर अरोड़ा की शिकायत पर गिरफ्तार किया गया है।

 

उन्होंने कहा कि उक्त शिकायतकर्ता ने विजिलेंस ब्यूरो से संपर्क किया है और आरोप लगाया है कि उक्त रिपोर्टर ने उसकी कृषि भूमि पर बने मकान तक जाने वाले पक्के रास्ते को न तोडऩे के एवज में तीन लाख रुपये की रिश्वत की मांग की है। शिकायतकर्ता ने आगे बताया कि आरोपी रिपोर्टर ने एसडीओ गलाडा के लिए एक लाख रुपये और जूनियर इंजीनियर गलाडा के लिए एक लाख रुपये और खुद के लिए एक लाख रुपये की मांग की है, नहीं तो पक्का रास्ता तोड़ दिया जाएगा।

 

यह भी पढ़ें ...  फगवाड़ा में वंदे भारत एक्सप्रेस पर पथराव, यात्रियों में दहशत

इसके बाद विजिलेंस ब्यूरो की टीम ने शिकायतकर्ता का बयान दर्ज किया और एक जाल बिछाया, जिसमें उपरोक्त रिपोर्टर को शिकायतकर्ता से 1,00,000 रुपये की रिश्वत लेते हुए दो आधिकारिक गवाहों की उपस्थिति में रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया गया है। इस संबंध में पत्रकार के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में आगे की जांच जारी है।

 

हमारे facebook Page पर जुड़ने के लिए क्लिक करें हमारे Whatsapp Channel से जुड़ने के लिए क्लिक करें

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button