पंजाब

पंजाब के मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवारों के प्रति व्यक्त की संवेदना!

 

सीएम ने की पीड़ितों से मुलाकात जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में मुख्यमंत्री भगवंत मान ने गुजरां गांव में पीड़ित परिवारों से मुलाकात कर अपना दुख साझा किया. उन्होंने कहा कि इस गांव में कई टांके नष्ट हो गये हैं और परिवारों की हालत खराब है. मुख्यमंत्री ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि मृतक लोगों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये दिए जाएंगे और साथ ही कहा कि उनके बच्चों को पढ़ाया-लिखाया जाएगा और नौकरी दी जाएगी और जो लोग इस घटना के लिए जिम्मेदार हैं उन्हें हत्या की सजा दी जाएगी. मामला दर्ज कर लिया गया है.

 

सीएम मान ने कहा कि जब तक मैं मुख्यमंत्री हूं, किसी भी घर का चूल्हा नहीं बुझने दूंगा. उन्होंने कहा कि अगर लोगों को मेरा काम पसंद नहीं है तो वे मुझे कुर्सी से हटा सकते हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों के घरों में तोड़फोड़ करने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा और कानून के मुताबिक सख्त कार्रवाई के तहत उन्हें जेल भेजा जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि वह चाहते हैं कि हमारा पंजाब मुस्कुराता रहे और पंजाबियों का जीवन स्तर ऊंचा रहे, जिसके लिए हम प्रतिबद्ध हैं. पीड़ितों से मुलाकात करते सीएम

यह भी पढ़ें ...  भगवंत सिंह मान और अरविंद केजरीवाल ने श्री गुरु अमरदास पावर प्लांट को लोगों को समर्पित किया

 

पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल चीमा जहरीली शराब से मरे युवकों के परिजनों से दुख बांटने पहुंचे. संगरूर में जहरीली शराब पीने से मौतों का आंकड़ा बढ़ गया है. अब मरने वालों की संख्या 21 हो गई है. बता दें कि इथेनॉल केमिकल से पीड़ित मरीजों की अस्पताल में लगातार मौत हो रही है. अब तक कुल 40 लोग जहरीली शराब पीकर अलग-अलग अस्पतालों में पहुंच चुके हैं. इनमें से 10 लोगों का अभी भी पटियाला के राजिंदरा अस्पताल और 6 लोगों का संगरूर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button