चंडीगढ़

शहडोल की बंद कोयला खदान में दम घुटने से चार युवकों की मौत

मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में बड़ा हादसा हुआ है। एसईसीएल के बंद पड़े धनपुरी यूजी माइंस में दम घुटने से चार युवकों की मौत हो गई। खदान के अंदर जहरीली गैस के कारण दम घुटने से मौत होना बताया जा रहा है।

शहडोल जिले में सोहागपुर ईस्टर्न कोल्ड फील्ड लिमिटेड (एसईसीएल) एरिया अंतर्गत बंद पड़ी धनपुरी भूमिगत खदान (धनपुरी यूजी माइंस) के अंदर कोयला और कबाड़ चोरी करने की नियत से घुसे चार युवकों की खदान के अंदर ही मौत हो गई। संभवतः खदान की जहरीली गैस के कारण युवकों का अंदर ही दम घुटने से यह हादसा हुआ।

जानकारी लगने के बाद कुछ ही देर में पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी मौके पहुंच गए, जिसके बाद गुरुवार देर रात से शुक्रवार सुबह तक पुलिस और कालरी की रेस्क्यू टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद शव को बाहर निकाला।

मृतकों की पहचान हजारी कोल (30) पिता कल्लू कोल निवासी दफई नंबर 4, कपिल विस्कर्म (21) पिता सुखराम निवासी वार्ड 19, राज महतो (20) पिता गणेश महतो निवासी वार्ड 16 और राहुल कोल (23) पिता हीरालाल निवासी वार्ड 16 के थे। मृतक धनपुरी थाना एरिया के रहने वाले थे। हादसे के बाद मृतकों के शव को मेडिकल कालेज शहडोल भेज दिया गया।

यह भी पढ़ें ...  चंडीगढ में मनाई पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी की जयंती

बता दें, यूजी माइंस को कोयला उत्पादन के बाद पिछले लगभग छह साल पहले ही बंद किया गया था। यहां गुरुवार रात बंकर के समीप माइंस के मुहाड़े की दीवार में होल करने के बाद मृतक चारो युवक कोयला और कबाड़ चोरी की नियत से अंदर घुसे थे। जबकि उनका एक साथी बाहर खड़े होकर चौकसी कर रहा था। जब काफी देर बाद भी चारो युवक बाहर नहीं आए और उसे किसी अनहोनी की आशंका हुई तो फिर इसकी जानकारी पुलिस तक पहुंची।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button