अंतर्राष्ट्रीय

सिगरेट पर प्रतिबंध लगाने वाला दुनिया का पहला देश बना न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया है, जिसके पास सिगरेट या तंबाकू उत्पादों के इस्तेमाल पर इतना सख्त कानून है। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न की सरकार ने देश में युवाओं के बीच सिगरेट या तंबाकू उत्पादों के धूम्रपान पर प्रतिबंध लगा दिया है और इसके लिए एक सख्त कानून बनाया है।

न्यूजीलैंड तंबाकू मुक्त देश बनने की ओर तेजी से बढ़ रहा है। नए कानून के अनुसार 1 जनवरी 2009 के बाद पैदा हुआ कोई भी व्यक्ति न सिर्फ सिगरेट तंबाकू उत्पाद खरीद सकेगा, ऐसे व्यक्तियों को तंबाकू उत्पाद बेचने वाले दुकानदार भी ऐसे व्यक्तियों को सामान नहीं बेच सकेंगे।

नए कानून में समय-समय पर सिगरेट खरीदने की न्यूनतम उम्र बढ़ाने का प्रावधान है। वर्तमान में 50 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति जो सिगरेट का पैकेट खरीदने की कोशिश करता है, उसे आयु का प्रमाण या आयु प्रमाण पत्र दिखाना होगा। 2025 तक धूम्रपान मुक्त करने की योजना लागू की जाएगी। तंबाकू और सिगरेट पर कड़े टैक्स लगाने के बाद नया कानून लागू किया गया है।

यह भी पढ़ें ...  लिफ्ट में अकेली महिला को छेड़ रहा था शख्स, फिर हुआ कुछ ऐसा -Video:

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, तंबाकू उत्पाद और सिगरेट बेचने वाली दुकानों की संख्या 6 हजार से बढ़कर 600 हो जाएगी। उपलब्ध सिगरेट में निकोटिन की मात्रा भी कम होने वाली है। दावा किया जाता है कि इससे न केवल सरकार द्वारा स्वास्थ्य योजनाओं पर खर्च किए जाने वाले धन की बचत होगी बल्कि नागरिकों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में भी मदद मिलेगी।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button