हरियाणा

विद्यार्थियों को पूरी स्कॉलरशिप नहीं दे रहे प्राइवेट मेडिकल कॉलेज

चंडीगढ़। हरियाणा में चल रही निजी मेडिकल कालेजों द्वारा इंटर्न और पीजी विद्यार्थियों को पूरी स्कॉलरशिप राशि नहीं दे रहे हैं। इसमें पचास प्रतिशत तक की कटौती की जा रही है। इस संबंध में कुछ विद्यार्थियों द्वारा सीएम विंडो पर शिकायत दिए जाने के बाद चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग निदेशालय ने सभी कालेजों को फटकार लगाते हुए स्टेटस रिपोर्ट मांग ली है। इस रिपोर्ट के आधार पर कालेजों के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

 

नियम के मुताबिक स्टूडेंट्स को अधिकतम 91 हजार रुपए स्कॉलरशिप का प्रावधान है, लेकिन कॉलेज प्रबंधन सिर्फ उन्हें 40 हजार रुपए महीने का ही भुगतान कर रहे हैं।

 

निदेशालय द्वारा एमएम कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंसेज, मुलाना (अंबाला), एसजीटी मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, बुढेरा (गुरुग्राम),आदेश मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, शाहाबाद (कुरुक्षेत्र), अल-फलाह मेडिकल कॉलेज, धौज, एनसी मेडिकल कॉलेज, इसराना (पानीपत), वल्र्ड कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंस, झज्जर, महर्षि मारकंडेश्वर मेडिकल कॉलेज, सादोपुर (अंबाला) और अमृता स्कूल ऑफ मेडिसिन, फरीदाबाद को स्कॉलरशिप मामले में पत्र जारी करके रिपोर्ट मांगी गई है।

यह भी पढ़ें ...  आम बजट में निर्यात, मोटा अनाज व रोजगार सृजन को प्रोत्साहन देने पर देंगे ध्यान : CM मनोहर लाल
Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button