हरियाणा

हरियाणा के गिरे हुए बीजेपी नेता, मुख्यमंत्री समेत पूरी कैबिनेट…

हरियाणा की राजनीति

लोकसभा चुनाव से पहले हरियाणा में बीजेपी और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के बीच गठबंधन टूट गया है. सिर्फ घोषणा बाकी है. माना जा रहा है कि जेजेपी हरियाणा में 1 से 2 लोकसभा सीटों की मांग कर रही थी, जबकि बीजेपी का केंद्रीय नेतृत्व और राज्य संगठन सभी 10 सीटों पर खुद चुनाव लड़ने के पक्ष में हैं. यही है टूटने का कारण.

 

जेजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सोमवार को दिल्ली में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की. इसके बाद सीएम मनोहर लाल खट्टर ने सोमवार रात और मंगलवार सुबह 11 बजे चंडीगढ़ में आपात बैठक बुलाई. इसमें सरकार को समर्थन देने वाले सभी मंत्री, विधायक और निर्दलीय विधायक शामिल हुए.

 

बीजेपी के आक्रामक रुख को देखते हुए दुष्‍यंत चौटाला दिल्ली पहुंच गए हैं. उन्होंने अमित शाह से मिलने का समय मांगा है. उधर, राजभवन में भी अफरा-तफरी का माहौल है. यहां एक हजार लोगों के लिए दोपहर के भोजन की व्यवस्था की गई है। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री मंत्रिमंडल समेत इस्तीफा दे सकते हैं. इसके बाद नया शपथ ग्रहण समारोह हो सकता है.
हरियाणा सरकार की वर्तमान स्थिति पर 2 बड़े सवाल और उनके जवाब।

  1. कैसे आया जेजेपी से गठबंधन तोड़ने का संकेत?
    उपमुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला ने सोमवार को दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। उन्होंने मीडिया से बात नहीं की. हालांकि पहले वह हर बार मीटिंग के बाद मीडिया से बात करते थे. चौटाला-नड्डा की मुलाकात के बाद गठबंधन को लेकर किसी भी बीजेपी नेता की ओर से कोई बयान नहीं आया.
  2. क्या बीजेपी सरकार गिरने का खतरा है?
यह भी पढ़ें ...  ईशनिंदा मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को हाई कोर्ट से राहत मिल गई है

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button