पंजाबराज्य

बलबीर सिंह द्वारा केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानन्द सोनोवाल को पंजाब में राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्था स्थापित करने की अपील

चंडीगढ़, 9 नवंबर: मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के सपने के अनुसार राज्य में आयुर्वेद की पढ़ाई को प्रोत्साहित करने के लिए पंजाब के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. बलबीर सिंह ने आज केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानन्द सोनोवाल को पंजाब में राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्था स्थापित करने की विनती की।

डॉ. बलबीर ने कहा कि वह एलोपैथी डॉक्टर हैं और उन्होंने पिछले 40 सालों से ख़ुद आयुर्वेद को अपनाया हुआ है, और वह अपने राज्य में आयुर्वेद को प्रोत्साहित करना चाहते हैं। केंद्रीय आयुष मंत्री को विनती करते हुए उन्होंने कहा कि हरियाणा की तरह पर पंजाब में भी राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्था स्थापित किया जाये और उन्होंने वादा करते हुए कहा कि इसको जल्द ही आयुर्वैदिक टीचर्स ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट में बदल देंगे।

डॉ. बलबीर सिंह 8वें आयुर्वेद दिवस समारोह, आयुर्वेद पर्व और 8 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के राष्ट्रीय आयुष मिशन के अंतर्गत क्षेत्रीय समीक्षा बैठक के हिस्से के तौर पर ‘आयुर्वेद फॉर वन हैल्थ’ विषय पर आयोजित कॉन्फ्रेंस के पहले दिन संबोधन कर रहे थे, जिसका उद्घाटन केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानन्द सोनोवाल द्वारा पंचकूला, हरियाणा के इन्द्रधनुष ऑडीटोरियम में किया गया। इस मौके पर पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री विशेष मेहमान के तौर पर मौजूद थे।

यह भी पढ़ें ...  अवैध शराब की आपूर्ति रोकने के लिए की जा रही है कड़ी निगरानी:जसप्रीत सिंह

जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने देश में बढ़ रहे हवा और पानी के प्रदूषण की मौजूदा स्थिति के बारे में भी बात की, जिसे एक चिंताजनक मुद्दा बताया और इसकी ओर ध्यान देने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया। केंद्रीय आयुष मंत्री को पर्यावरण के मुद्दों पर सभी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक बुलाने की विनती करते हुए उन्होंने कहा कि वह यहाँ यह सोचकर आए थे कि आठ राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री यहाँ मौजूद होंगे और वह सभी इस गंभीर विषय पर विचार-विमर्श कर सकेंगे।

 

लोग केवल दिल्ली में ही प्रदूषण के बारे में चर्चा कर रहे हैं, इसका हवाला देते हुए डॉ. बलबीर सिंह ने कहा कि वास्तविकता यह है कि प्रदूषण अब केवल दिल्ली तक ही सीमित नहीं है, बल्कि समूचा देश गैस चैंबर बन चुका है। उन्होंने कहा कि यह किसी पार्टी का मुद्दा नहीं है और न ही अगले मतदान के बारे में है, बल्कि यह आने वाली पीढ़ी के बारे में है। उन्होंने अपने आप को और सभी चुने हुए प्रतिनिधियों को वी.आई.पीज नहीं, बल्कि लोगों के सेवक करार देते हुए कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए विद्यार्थियों को कहा कि स्वच्छ हवा और साफ़ पानी हमारा मौलिक अधिकार है और आपको (विद्यार्थियों) हमसे इस बारे में पूछना चाहिए।

यह भी पढ़ें ...  पटियाला जेल से आज रिहा होंगे नवजोत सिंह सिद्धू, भव्य स्वागत की तैयारी, समर्थक बांटेंगे लड्डू

 

डॉ. बलबीर सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने उनको पंजाब के 3 करोड़ लोगों के स्वास्थ्य की जि़म्मेदारी सौंपी है। उन्होंने कहा कि हमारे लोगों को तंदुरुस्त और सेहतमंद रखने के लिए, हमारे मुख्यमंत्री ने ‘सी.एम. दी योगशाला’ शुरू की है, जो पहले ही 1000 क्लासों तक बढ़ाई जा चुकी है और आम आदमी क्लीनिकों में, हमारे पास ध्यान केंद्र, जिम, वॉकिंग ट्रैक और पार्क हैं, जो लोगों को कसरत करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं, जोकि बीमारियों को दूर रखने का एकमात्र तरीका है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button