राज्य

सर्जिकल स्ट्राइक: दिग्विजय के बयान पर राहुल गांधी की भी सफाई कहा कि बयान से सहमत नहीं

कांग्रेस : दिग्विजय के बयान पर राहुल गांधी की भी सफाई सामने आई। उन्होंने कहा कि दिग्विजय के बयान से कांग्रेस सहमत नहीं है। सेना कुछ भी करे उसके लिए सबूत की जरूरत नहीं है। सवाल ये है कि कांग्रेस ने दिग्विजय के बयान से किनारा क्यों किया? जयराम रमेश बार-बार दिग्विजय सिंह को बयान देने से रोक रहे हैं?

सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने के बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह विवादों में घिर गए हैं। दिग्विजय के बयान से उनकी पार्टी ने भी किनारा कर लिया है। यहां तक कि उन्हें सार्वजनिक तौर पर किसी तरह का बयान देने से रोका भी जा रहा है। इसकी बानगी मंगलवार को देखने को मिली, जब भारत जोड़ो यात्रा के दौरान मीडिया दिग्विजय सिंह से उनके बयान पर सवाल पूछ रही थी। अचानक पीछे से कांग्रेस नेता जयराम रमेश आ गए। इसके बाद सवाल पूछ रहे मीडियाकर्मियों से कहा कि जाकर प्रधानमंत्री से सवाल पूछिए। इससे पहले सोमवार को भी इसी तरह की तस्वीरें सामने आई थीं।

दिग्विजय के बयान पर राहुल गांधी की भी सफाई सामने आई। उन्होंने कहा कि दिग्विजय के बयान से कांग्रेस सहमत नहीं है। सेना कुछ भी करे उसके लिए सबूत की जरूरत नहीं है। सवाल ये है कि कांग्रेस ने दिग्विजय के बयान से किनारा क्यों किया? जयराम रमेश बार-बार दिग्विजय सिंह को बयान देने से रोक रहे हैं?

यह भी पढ़ें ...  किन्नौर में हांगो की पहाड़ियों में झुंड में दिखे 3 बर्फानी तेंदुए, कैमरे में कैद हुई वीडियो

दिग्विजय सिंह ने क्या बयान दिया?
दिग्विजय सिंह सोमवार को कहा कि भाजपा सरकार ने देश में भाई-भाई को अलग करने का काम किया है। पुलवामा (कश्मीर) आतंकवाद का केंद्र बन चुका है वहां हर गाड़ी की जांच होती है, लेकिन एक गाड़ी बिना जांच पड़ताल के उल्टी दिशा से आती है और सुरक्षाकर्मियों के काफिले से टकराती है, जिसमें हमारे सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो जाते हैं। मगर भाजपा सरकार ने इस घटना की जानकारी लोकसभा और जनता के सामने क्यों नहीं रखी। इसी तरह सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं लेकिन प्रमाण कुछ नहीं दिया। भाजपा केवल झूठ पर राज कर रही है।

दिग्विजय के बयान पर क्या बोली भाजपा?
जैसे ही दिग्विजय सिंह ने पुलवामा हमले और सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर सवाल खड़े किए भाजपा ने कांग्रेस को आड़े हाथों ले लिया। भाजपा ने कांग्रेस को सेना विरोधी बता डाला। भाजपा नेता और प्रवक्ता शहजाद पूनावाला कहते हैं कि राहुल गांधी सेना के शौर्य का अपमान करते हैं। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दिग्विजय सिंह और कांग्रेस पर निशाना साधा है। शिवराज सिंह चौहान ने दिग्गी के बयान पर कहा कि कांग्रेस का डीएनए ही पाकिस्तान परस्ती का है।

कांग्रेस ने दिग्विजय के बयान से क्यों किया किनारा?
इसे समझने के लिए हमने राजनीतिक विश्लेषक प्रो. अजय कुमार से बात की। उन्होंने कहा, ‘भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस के संगठन में सकरात्मक माहौल दिखा है। पार्टी इसे खोना नहीं चाहती। पहले भी कई बार कांग्रेस नेताओं के विवादित बयानों का पार्टी को कई बार नुकसान उठाना पड़ा है। दिग्विजय का बयान तूल पकड़ता है तो इससे कांग्रेस को नॉर्थ ईस्ट, मध्य प्रदेश और राज्यस्थान जैसे राज्यों के विधानसभा चुनावों में नुकसान उठाना पड़ सकता है।’

यह भी पढ़ें ...  कोयला खदान से मिला मिलावटखोरी:खनिज विभाग और पुलिस की मिलीभगत से चल रहा खेल, कर्मचारी सहित 4 गिरफ्तार

दिग्विजय सिंह को बयान देने से क्यों रोक रहे जयराम रमेश?
ये पहली बार नहीं है, जब दिग्विजय सिंह के बयान से कांग्रेस मुश्किल में पड़ी है। उन्होंने जब-जब इस तरह का बयान दिया, कांग्रेस की फजीहत हुई है। इन बयानों को भाजपा हर चुनाव में मुद्दा बनाती रही है। अब एक बार फिर से दिग्विजय सिंह ने विवादित बयान दे दिया है। कांग्रेस को यह मालूम है कि भाजपा अब इसे मुद्दा बनाएगी।

इसलिए जयराम रमेश बार-बार दिग्विजय सिंह को किसी भी तरह का बयान देने से रोक रहे हैं। वह यह जानते हैं कि अगर दिग्विजय मीडिया के सवालों से रूबरू होंगे तो वह कुछ न कुछ ऐसा फिर से बोल देंगे जिसे भाजपा कांग्रेस के खिलाफ मुद्दा बना लेगी। यही कारण है कि जयराम रमेश दिग्विजय सिंह को सार्वजनिक तौर पर कुछ भी बोलने से रोकते नजर आ रहे हैं।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button