राजनीति

अकाली दल और बीजेपी के बीच एक बार फिर गठबंधन तय हो गया है

अकाली दल और बीजेपी

लोकसभा चुनाव 2024 से पहले पंजाब की राजनीति में बड़ा बदलाव आ सकता है. माना जा रहा है कि एक बार फिर अकाली दल का एन.डी.ए. वापसी हो सकती है. सूत्रों के मुताबिक, अकाली दल और बीजेपी के बीच लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन और सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है. गौरतलब है कि देश में अप्रैल से मई के बीच लोकसभा चुनाव आयोजित किये जा सकते हैं. 

 

बीजेपी ज्यादा सीटें चाहती है

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बीजेपी लोकसभा चुनाव में पंजाब में ज्यादा सीटें चाहती है. दोनों पार्टियां पहले के फॉर्मूले पर बातचीत नहीं कर रही हैं. नए फॉर्मूले के तहत बीजेपी लोकसभा में ज्यादा सीटें चाहती है. 13 लोकसभा सीटों में से 7-8 और 5-6 के फॉर्मूले पर मंथन चल रहा है. अगर शिरोमणि अकाली दल को 7 सीटों पर मान लिया जाए तो बीजेपी 6 सीटें ले लेगी. अगर अकाली दल 8 सीटों से कम पर नहीं मानेगा तो बीजेपी 5 पर भी तैयार हो सकती है. हालाँकि शुरुआत में अकाली दल और भी कम सीटें देना चाहता था. सीटों पर अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है. 2017 में अकाली दल 10 और बीजेपी 3 सीटों पर चुनाव लड़ी थी. दोनों पार्टियों के बीच सीट बंटवारे पर बात बनी तो जल्द ही पार्टी नेता गठबंधन को लेकर आधिकारिक घोषणा करेंगे. 

यह भी पढ़ें ...  कुश्ती संघ की लड़ाई कैसे बढ़ा सकती है बीजेपी का सिरदर्द

 

इसके कारण एन.डी.ओ अकाली दल अलग हो गया

शिरोमणि अकाली दल 1997 से सितंबर 2020 तक बीजेपी की सहयोगी रही है. हालांकि, साल 2020 में हरसिमरत कौर बादल ने तीन कृषि कानूनों के विरोध में केंद्र सरकार के मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था.

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button