अंतर्राष्ट्रीय

Ukraine: यूरोपीय संघ में शामिल होने के लिए बेताब यूक्रेन

यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा कि यूरोपीय संघ में प्रवेश होने के लिए उनकी सरकार हर वह कदम उठाने के लिए तैयार है जो इसके लिए जरूरी होगा।

यूरोपीय संघ में शामिल होने को लेकर यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि उनका युद्धग्रस्त देश ‘इस साल’ यूरोपीय संघ में शामिल होने के लिए वार्ता शुरू करने का वास्तविक हकदार है। जेलेंस्की ने कहा कि यूरोपीय संघ में प्रवेश होने के लिए उनकी सरकार हर वह कदम उठाने के लिए तैयार है जो इसके लिए जरूरी होगा।

उन्होंने कहा कि हम इस मसले पर यूरोपीय संघ की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन के साथ एक महत्वपूर्ण आपसी समझ पर पहुंच गए हैं। जल्द ही वार्ता शुरू करेंगे। उन्होंने कहा कि वार्ता के बाद हमें उम्मीद है कि जल्द ही अच्छे परिणाम सामने आएंगे।

रूस से निपटने के लिए यूरोपीय संघ का समर्थन जरूरी: जेलेंस्की
जेलेंस्की ने कहा कि आयोग के नेता और यूरोपीय आयोग के कॉलेज के सदस्यों के साथ उनकी सार्थक बातचीत हुई और इससे पता चला कि सभी पक्ष इस तथ्य को समझते हैं कि यूक्रेन को रूस के खिलाफ रक्षा में निरंतर और पूर्ण समर्थन की आवश्यकता है।

यह भी पढ़ें ...  Spy Balloon: क्या है स्पाई बैलून जिसे चीन ने अमेरिका के आसमान में छोड़ा?

जेलेंस्की ने कहा कि हमारे लोगों को किसी भी बाधाओं और खतरों के बावजूद लड़ने के लिए और अधिक ऊर्जा और प्रेरणा मिलनी चाहिए। इसलिए यूरोपीय संघ को हमारा समर्थन करना होगा। मेरा मानना है कि यूक्रेन इस साल यूरोपीय संघ की सदस्यता पर बातचीत शुरू करने का हकदार है।

ब्रिटेन ने मदद को लेकर कही बड़ी बात
ब्रिटेन के रक्षा मंत्री ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने यूक्रेन को लड़ाकू विमानों की आपूर्ति करने से इंकार नहीं किया और आगाह किया कि वे युद्ध में ‘जादू की छड़ी’ नहीं बनेंगे। ब्रिटेन के रक्षा सचिव बेन वालेस ने पत्रकारों से कहा कि विमानों की प्रक्रिया पर, मैं बहुत स्पष्ट रहा हूं।

पिछले एक साल में मैंने एक बात सीखी है कि किसी भी चीज पर शासन न करें, किसी भी चीज से इंकार न करें। यूक्रेन ने रूसी आक्रमण को पीछे हटाने में मदद करने के लिए अमेरिकी निर्मित एफ-16 युद्धक विमानों का अनुरोध किया है। संयुक्त राज्य अमेरिका ने फिलहाल यूक्रेन को F-16 की किसी भी डिलीवरी से इंकार किया है, लेकिन पोलैंड सहित अन्य भागीदारों ने इस विचार के लिए खुद को अधिक खुला दिखाया है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button