राष्ट्रीय

बिलासपुर : स्कूल में झंडा फहराने को लेकर हुआ विवाद, आपस में भिड़े नेता, जमकर की गाली-गलौज

बिलासपुर : स्कूल में झंडा फहराने को लेकर हुआ विवाद, आपस में भिड़े नेता, जमकर की गाली-गलौज, बिलासपुर के रतनपुर के पूर्व माध्यमिक शाला नवागांव मोहदा स्कूल में ध्वजारोहण करने को लेकर स्कूल में विवाद हो गया। इस दौरान बच्चों के सामने ही जमकर गाली-गौलज हुई।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में गणतंत्र दिवस पर ध्वजारोहण करने को लेकर स्कूल में विवाद हो गया। नेता आपस में भिड़ गए। विवाद और गाली गलौज के साथ हाथापाई भी हुई। स्कूल में बच्चों के सामने हुए विवाद का वीडियो सामने आया है।

रतनपुर के पूर्व माध्यमिक शाला नवागांव मोहदा का यह मामला है। जोन प्रभारी संतोष साहू और पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष महावीर साहू के बीच विवाद हुआ था।

दरअसल स्कूल में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान झंडा कौन फहरायेगा इस विवाद में जोन प्रभारी संतोष साहू और पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष महावीर साहू आपस में भीड़ गए और विवाद गाली-गलौज और हाथापाई तक जा पहुंचा, इन नेताओ को जरा भी शर्म नही आई की उनके सामने स्कूली बच्चे खड़े है, झंडा फहराने की होड़ में नेता जी, अपने संस्कारों को भूल बैठे।

यह भी पढ़ें ...  राहुल गांधी मामले में आया जर्मनी का बयान, भारत को देने लगा सलाह

राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस पर जनप्रतिनिधि गणतंत्र दिवस पर इस तरह की हरकत बेहद ही निंदनीय है। बता दें महावीर साहू विकास समिति का अध्यक्ष भी है, जो सरपंच द्वारा झंडा फहराया जाने की वकालत कर रहे थे, लेकिन संतोष साहू खुद झंडा फहराना चाहते थे।

हालात यह हो गया कि उद्घोषक ने डर के मारे उद्घोषणा करने से भी इनकार करते हुए माइक प्राचार्य को थमा दिया जिन्होंने मध्य मार्ग निकालते हुए अतिथियों के बजाय स्कूल के बच्चों द्वारा ध्वज फहरवाया । जैसे तैसे कार्यकर्म को निपटाया गया पर झंडा फहराने को लेकर इस तरह की ओछी हरकत से बच्चों पर क्या असर पड़ेगा ये सोचने वाली बात है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button