राष्ट्रीय

राजधानी में बर्तन बेचने की आड़ में मकानों की करते थे रेकी, 3 आरोपी गिरफ्तार

राजधानी रायपुर : राजधानी के डीडी नगर इलाके में 3 मकानों में चोरी करने के आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। चोर गिरोह के 3 सदस्यों को गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता पाई है। एक अन्य आरोपी की तलाश की जा रही है। आरोपी मूल रूप से पश्चिम बंगाल और ओडिशा के रहने वाले हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपी दिन में बर्तन बेचने का काम करते हैं और इसी दौरान वे घरों की रेकी कर लेते और रात में चोरी की घटना को अंजाम देते।

आरोपी सूने मकानों को अपना निशाना बनाते और रात में इन घरों की ग्रिल काटकर चोरी की वारदात को अंजाम देते थे। आरोपियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उन्होंने 8-9 दिसंबर की दरम्यानी रात को संस्कृति विभाग की रिटायर्ड कर्मी मंगला श्रीवास्तव के घर चोरी की थी। मंगला अपने घर में ताला लगाकर 4 दिनों के लिए अपनी बहन के यहां कोरबा गई हुई थीं। आरोपियों ने पहले घर का इंटर लॉक खोलने का प्रयास किया, लेकिन जब वे इसे नहीं खोल पाए, तो लकड़ी के दरवाजे को ही काट दिया। कमरे में रखी अलमारी से चोरों ने सोने-चांदी के जेवरात और नकदी समेत कुल 90 हजार का सामान पार कर दिया था।

आरोपियों ने दूसरी चोरी 13-14 दिसंबर को समरेंद्र सिंह कंचनगंगा फेस 2 के सूने मकान में की। वे दरवाजे का ताला तोड़कर अंदर घुसे। उसके बाद अलमारी में रखे सोने-चांदी के गहने और कैश को चोरी कर लिया। तीसरी चोरी की घटना 22-23 दिसंबर को अविनाश सिंह ठाकुर निवासी रोहिणीपुरम डीडी नगर के मकान में की गई। आरोपियों ने खिड़की में लगी ग्रिल को काटा। इसके बाद वे अंदर घुसे। उन्होंने अलमारी का लॉकर तोड़ दिया और सोने-चांदी के गहनों और नगद रुपयों की चोरी कर ली।

यह भी पढ़ें ...  Navjot Singh Sidhu: पटियाला जेल से रिहा हुए नवजोत सिंह सिद्धू, बाहर आते ही राहुल गांधी को बताया क्रांति

एक ही महीने में चोरी की इन वारदातों से पुलिस भी परेशान हो गई थी। मुखबिर से मिली सूचना पर पुलिस ने RDA कॉलोनी के एक मकान में छापा मारा, जहां कुछ बाहरी व्यक्तियों के रुकने का पता चला था। यहां से पुलिस ने चोरी के 3 आरोपियों पश्चिम बंगाल के रहने वाले मोहम्मद बादल (25) मोहम्मद अशराफुल शेख (21) और ओडिशा निवासी मोहम्मद मकसूद अली (29) को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से चोरी की रकम और गहने भी बरामद हुए हैं। साथ ही चोरी के पैसों से खरीदी पल्सर गाड़ी भी जब्त कर ली गई है। कुल नगद और समान की कीमत 4 लाख रुपये के करीब है।

Post Views: 71


Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button