राष्ट्रीय

एनसीआर में दिल्ली सबसे ज्यादा प्रदूषित, नोएडा दूसरे नंबर पर तीन दिन तक तेज हवा चलेगी

मौसमी दशाएं अनुकूल न होने से गुरुवार को दिल्ली के प्रदूषण के स्तर में बढ़त दर्ज की गई। दिल्ली का प्रदूषण सूचकांक 371 दर्ज किया गया, जो एनसीआर में सबसे अधिक रहा। भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान (आईआईटीएम) के मुताबिक मौसमी दशाओं का अनुकूल न होने के कारण प्रदूषण का स्तर में बढ़त हुई।

हालांकि शाम को हुई हल्की बारिश से कुछ सुधार जरूर हुआ, लेकिन प्रदूषण स्तर बेहद खराब श्रेणी में ही रहा। दिल्ली के अलावा गुरुवार को गाजियाबाद (311), फरीदाबाद (341), गुरुग्राम (317), नोएडा (322), ग्रेटर नोएडा (308) में प्रदूषण सूचकांक 300 से अधिक रहा, जबकि बहादुरगढ़, बल्लभगढ़ में प्रदूषण का स्तर 300 से कम रहा।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार, दिल्ली एनसीआर में मौसमी दशाएं अनुकूल न होने से बुधवार के मुकाबले दिल्ली के प्रदूषण का स्तर में 63 सूचकांक की बढ़त हुई। गुरुवार को दिल्ली में दक्षिण-पूर्व दिशा से आठ से 16 किमी की गति से हवा चली।

सुबह धुंध छाने से प्रदूषण का स्तर बढ़ा, दिन में खिली धूप से कुछ राहत मिली। हालांकि शाम को कुछ इलाकों में बूंदाबांदी हुई, लेकिन इससे भी ज्यादा राहत नहीं मिली।

सफर का पूर्वानुमान है कि अगले तीन दिनों तक दक्षिण-पूर्व दिशा से हवा चलेगी। प्रदूषण स्तर में कुछ सुधार की उम्मीद है, हालांकि प्रदूषण का स्तर बेहद खराब ही रहेगा।

भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान (आईआईटीएम) के मुताबिक मौसमी दशाओं का अनुकूल न होने के कारण प्रदूषण का स्तर में बढ़त हुई। गुरुवार को दिल्ली में दक्षिण-पूर्व दिशा से आठ से 16 किमी की गति से हवा चली। सुबह धुंध के कारण गुरुवार को मिक्सिंग हाइट 550 मीटर पर रहा। वेंटिलेशन इंडेक्स भी औसत से कम रहा।

Sapna

Sapna Yadav News Writer Daily Base News Post Agency Call - 9411668535, 8299060547, 8745005122 SRN Info Soft Technology www.srninfosoft.com

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button