राजनीति

जम्मू से भी ठंडा बिहार-राजस्थान राजधानी दिल्ली में 20 फ्लाइट और 36 ट्रेनें लेट रहीं मप्र में पारा और गिरेगा

देशभर में शीतलहर जारी है। जम्मू कश्मीर के कुछ इलाकों से भी ज्यादा ठंड राजस्थान और बिहार के कुछ जिलों में पड़ रही है। पटना का न्यूनतम तापमान 7.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि जम्मू के कटरा में न्यूनतम तापमान 7.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। वहीं, राजस्थान के जोबनेर (जयपुर) में लगातार चौथे दिन पारा -2.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

शनिवार को दिल्ली के रिज इलाके में 1.5 डिग्री सेल्सियस तक न्यूनतम तापमान पहुंचा और सफदरजंग में 2.2 डिग्री सेल्सियस तक टेम्प्रेचर रिकॉर्ड किया गया। सुबह 6 बजे तक की रिपोर्ट के मुताबिक, कोहरे की वजह से दिल्ली एयरपोर्ट में 20 फ्लाइट्स डिले हुईं। हालांकि, किसी भी प्लेन के डायवर्ट होने की सूचना नहीं है। वहीं, दिल्ली पहुंचने वाली 36 ट्रेनें लगभग 5 से 6 घंटे लेट रहीं।

इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (IMD) के मुताबिक, उत्तर भारत के कई इलाकों में तापमान में अगले 2 से 3 दिनों में कोई बदलाव नहीं होगा। इसके बाद कई जगहों पर टेम्प्रेचर 2 डिग्री सेल्सियस बढ़ेगा। हालांकि मौसम विभाग ने MP को लेकर आशंका जताई है कि अगले 2 दिनों में यहां का टेम्प्रेचर लगभग 3 डिग्री सेल्सियस तक गिरेगा।

कश्मीर में बर्फ में बच्चे खेलते नजर आए

राजस्थान के कई इलाकों में माइनस में पारा जा रहा है। शनिवार को जोबनेर (जयपुर) में लगातार चौथे दिन पारा -2.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। चूरू में पारा वापस जमाव बिंदु यानी 0 पर पहुंच गया। फतेहपुर में भी तापमान आज 2 डिग्री सेल्सियस लुढ़ककर -1.8 पर पहुंच गया। फतेहपुर में इस सीजन में ये छठा दिन है जब पारा माइनस में गया है।

राजस्थान में आज 11 शहरों में शीतलहर का प्रकोप रहेगा। इसके लिए बकायदा येलो अलर्ट भी जारी किया है। इसमें शेखावाटी बेल्ट के चूरू, सीकर, झुंझुनूं के अलावा पूर्वी राजस्थान के कई जिले हैं।

मध्य प्रदेश देश का दूसरा सबसे ठंडा शहर रहा नौगांव

उत्तर से आ रही बर्फीली हवा की वजह से मध्य प्रदेश में जमकर सर्दी पड़ रही है। नौगांव, उमरिया, खजुराहो, मलाजखंड, ग्वालियर, गुना के आगे देश के बड़े हिल स्टेशन ऊटी, शिमला, मनाली, देहरादून, कोडईकनाल फीके पड़ गए हैं। नौगांव में रात का तापमान 0.5 डिग्री दर्ज किया गया।

यह दूसरे दिन भी देश का दूसरा और प्रदेश में सबसे ठंडा शहर रहा। खजुराहो में पारा 1.6, उमरिया में 1.7, ग्वालियर में 2.6, गुना में 3.0, सतना में 3.0, सीधी और दमोह में 3.4 डिग्री पर पहुंच गया।

मौसम विशेषज्ञ ए के शुक्ला ने बताया कि जहां तापमान 4 डिग्री या उससे कम रहा, वहां पाला माना जाता है। भोपाल में चौथे दिन भी रात का तापमान 8 डिग्री तक नहीं पहुंच सका। यह 7.9 डिग्री दर्ज किया गया, जो सामान्य से 3 डिग्री कम रहा।

उत्तर प्रदेश 12 जिलों का पारा 5 डिग्री से कम

प्रदेश में 12 जिलों का तापमान 5 डिग्री के नीचे बना है। कानपुर यूपी में लगातार सबसे ठंडा शहर बना हुआ है। शनिवार-रविवार की रात तापमान 2 डिग्री तक चला गया। वहीं बरेली, बागपत, मैनपुरी में भी तापमान 2 से 3 डिग्री के बीच बना रहा। कानपुर में पिछले 3 दिनों से न्यूनतम तापमान 5 डिग्री से कम बना है।

5 जनवरी को न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री था जो 6 जनवरी को गिरकर 3.2 डिग्री हो गया। मौसम विभाग के अनुसार, अभी ठंड और बढ़ेगी। बीच-बीच में कुछ देर के लिए धूप निकल सकती है। लेकिन, बर्फीली हवाएं परेशान करेंगी।

दिल्ली के कई इलाकों में पारा 2 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे आ गया है। रविवार यानी आज 8 जनवरी को सफदरजंग में न्यूनतम तापमान 1.9 डिग्री दर्ज हुआ है। IMD के मुताबिक, पालम में आज सुबह 8 जनवरी को न्यूनतम तापमान 2.0, सफदरजंग में 1.9, लोधी रोड पर 2.8, रिज में 2.2 और आयानगर में 2.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

आज दिल्ली में न्यूनतम तापमान 2 डिग्री और अधिकतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस रह सकता है। शीतलहर के साथ कोहरा का प्रकोप भी जारी रहेगा।

बिहार 10 जिलों में दिल्ली-शिमला से भी ज्यादा ठंड

बिहार में सर्दी का सितम पिछले 8 दिनों से जारी है। ठंड और प्रचंड हो गई है। पटना, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर सहित 10 जिलों में दिन का तापमान दिल्ली, चंबा, मनाली, शिमला, कुल्लू, भोपाल, रायपुर, रांची, कोलकाता सहित अन्य जिलों से भी कम है।

पटना का अधिकतम तापमान 14.4 और न्यूनतम तापमान 7.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि शिमला का अधिकतम तापमान 16.2 और न्यूनतम तापमान 7.8 डिग्री सेल्सियस रहा रिकॉर्ड किया गया।

मौसम विभाग के मुताबिक ठंड का प्रभाव अभी दो दिनों तक रहने की संभावना है। इस दौरान दिन के साथ ही रात के तापमान में भी गिरावट होगी। इससे गलन युक्त सर्दी का एहसास होगा।

हिमाचल लाहौल में जम गए नदी-नाले और झरने

लाहौल घाटी में पारा शून्य से नीचे चल रहा है। घाटी में शुक्रवार को न्यूनतम पारा माइनस 15 डिग्री दर्ज किया गया। कड़ाके की ठंड के कारण चन्द्रभागा नदी के किनारे और झील झरने जम गए हैं। कड़ाके की ठंड के कारण घाटी में पेयजल के करीब 60 फीसदी जलस्त्रोत जम गए हैं, जिससे ग्रामीणों को अपने साथ पालतू मवेशियों के लिए पानी की व्यवस्था करना एक चुनौती बन गया है।

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले कुछ दिनों तक हिमाचल के ज्यादातर इलाकों में पारा माइनस रहने की संभावना है।

छत्तीसगढ़ में कड़ाके की सर्दी शुरू हो गई है। उत्तर से आ रही बर्फीली हवा से प्रदेश के कई हिस्सों में रात का तापमान काफी गिर गया है। प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में शीतलहर के हालात बन गए हैं। मौसम विभाग ने रविवार तक राज्य में कई जगहों पर शीतलहर चलने की चेतावनी दी है।

अंबिकापुर में 48 घंटे के भीतर रात के तापमान में 5 डिग्री की गिरावट हुई है और शनिवार को न्यूनतम पारा 4.6 डिग्री पर पहुंच गया। यह इस सीजन का सबसे न्यूनतम तापमान है। पिछले साल पूरी सर्दी में इतना नीचे तापमान नहीं गया था।

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि उत्तर से आ रही ठंडी हवाओं का प्रभाव बढ़ गया है। न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है। तापमान में गिरावट का यह दौर दो दिनों तक रहेगा। इस बीच न्यूनतम तापमान में 4 से 6 डिग्री की गिरावट संभावित है।

Sapna

Sapna Yadav News Writer Daily Base News Post Agency Call - 9411668535, 8299060547, 8745005122 SRN Info Soft Technology www.srninfosoft.com

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button