अंतर्राष्ट्रीय

Top News: राहुल को विदेश मंत्री का करारा जवाब, पुतिन ने पश्चिमी देशों को बताई जंग की वजह

मंगलवार को देश और दुनिया में कई ऐसी घटनाएं घटी जिसने सुर्खियां बटोरी। आइए आज दिन-भर 05 बड़ी खबरों पर एक नजर डालते हैं। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि भारत चीन से नहीं डरता है और न ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चीन का नाम लेने से डरते हैं। इस दौरान विदेश मंत्री ने

बीबीसी डॉक्यूमेंट्री के प्रसारण के समय पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि यह टाइमिंग महज एक संयोग है।

बीबीसी की डॉक्युमेंट्री अभी क्यों रिलीज हुई? 1984 में भी बहुत कुछ हुआ था, उस पर डॉक्युमेंट्री क्यों नहीं बनी? दिल्ली या भारत में चुनावी साल शुरू हुआ कि नहीं, यह तो पता नहीं, लेकिन लंदन और न्यूयार्क में जरूर शुरू हो चुका है।

वही रूस-यूक्रेन जंग के एक साल पूरा होने से ठीक 3 दिन पहले आज यानी मंगलवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूस के संसद में भाषण दिया। पुतिन का ये भाषण बाइडेन के यूक्रेन दौरे के एक दिन बाद आया है।

इसमें उन्होंने यूक्रेन के साथ हो रहे युद्ध को लेकर कई बड़े बयान दिए।विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि भारत चीन से नहीं डरता है और न ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चीन का नाम लेने से डरते हैं।

इस दौरान विदेश मंत्री ने बीबीसी डॉक्यूमेंट्री के प्रसारण के समय पर भी सवाल उठाया।विदेश मंत्री ने एएनआई के इंटरव्यू में कहा कि चीन के साथ भारत की लगी सीमा पर सेना राहुल गांधी ने नहीं भेजी है, पीएम मोदी ने भेजी है।

यह भी पढ़ें ...  गूगल डूडल आज: गूगल ने इंटरैक्टिव डूडल के साथ बबल टी मनाया; अपनी खुद की 'डिजिटल बबल टी' बनाएं

इस समय एलएसी पर अब तक की सबसे बड़ी सेना को तैनात किया गया है।रूस-यूक्रेन जंग के एक साल पूरा होने से ठीक 3 दिन पहले आज यानी मंगलवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूस के संसद में भाषण दिया।

रूस की संसद को संबोधित करते हुए पुतिन ने कहा कि हम इस समस्या को शांतिपूर्ण तरीके से हल करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रहे थे।इस कठिन संघर्ष से शांतिपूर्ण तरीके से बातचीत कर रहे थे, लेकिन हमारी पीठ पीछे एक बहुत अलग ही साजिश रची जा रही थी।

हम अपने हित और स्थिति की रक्षा करते हैं कि सभ्य देशों और बाकी के बीच विभाजन नहीं होना चाहिए।सटोरियों द्वारा अपने सौदों के आकार को कम करने से वायदा कारोबार में मंगलवार को सोना 133 रुपये गिरकर 56,080 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया।

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में, अप्रैल डिलीवरी के लिए सोना अनुबंध 12,324 लॉट के कारोबार में 133 रुपये या 0.24 प्रतिशत की गिरावट के साथ 56,080 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेड कर रहा था।बाजार के विश्लेषकों ने सोने की कीमतों में गिरावट का श्रेय कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की कटान को दिया।

यह भी पढ़ें ...  अफगानिस्तान में सड़क किनारे हुआ बम विस्फोट, 7 लोगों की मौत

वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना 0.21 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,846.30 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था। उधर चांदी वायदा गिरावट के साथ 65,474 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई।भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच चार मैचों की सीरीज का चौथा व अंतिम टेस्‍ट अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्‍टेडियम में खेला जाएगा।

यह मुकाबला 9 मार्च से शुरू होगा। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत-ऑस्‍ट्रेलिया के बीच चौथा टेस्‍ट देखने के लिए अहमदाबाद के स्‍टेडियम में मौजूद रह सकते हैं।

गुजराती जागरण के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्‍बनीज के साथ मैच का आनंद स्‍टेडियम में आकर उठा सकते हैंमौसम विभाग (आईएमडी ) ने मंगलवार को आने वाले दिनों के लिए दिल्ली-एनसीआर में अधिकतम तापमान 31-33 डिग्री के बीच रहने की उम्मीद जताई है।

आईएमडी वैज्ञानिक डॉ नरेश ने कहा, वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है जो पश्चिमी हिमालय क्षेत्र को प्रभावित कर रहा है।

कल से, इस बात की थोड़ी संभावना है कि उत्तर पश्चिम भारत में तापमान में 1-2 डिग्री की गिरावट आएगी। दिल्ली-एनसीआर में, हम अधिकतम तापमान 31-33 डिग्री के बीच रहने की उम्मीद कर रहे हैं।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button