हरियाणा

हरियाणा में बीजेपी सरकार के पास अब बहुमत नहीं,कभी भी टूट सकती है सरकार

हरियाणा भाजपा सरकार

लोकसभा चुनाव नतीजे आने के बाद हरियाणा में सियासी घमासान तेज हो गया है. तीन स्वतंत्र विधायकों द्वारा अपना समर्थन वापस लेने के बाद, हरियाणा में भाजपा सरकार वर्तमान में अल्पमत में है और लोकसभा चुनावों में भी, भाजपा 2019 में 10 सीटों की तुलना में केवल 5 सीटें जीतने में सफल रही।

इन सबके बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी और पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर खट्टर ने चंडीगढ़ में जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के दो विधायकों जोगीराम सिहाग और रामनिवास सुरजाखेड़ा से मुलाकात की है.

तीन निर्दलीय विधायकों के समर्थन वापस लेने के बाद हरियाणा में भाजपा सरकार फिलहाल अल्पमत में है। इस सियासी संकट से उबरने के लिए बीजेपी जेजेपी के कुछ विधायकों को लुभाने की कोशिश कर रही है. हरियाणा में इस साल अक्टूबर में विधानसभा चुनाव होने हैं.

यह भी पढ़ें ...  अमृत काल में हरियाणा का पहला बजट हुआ पेश : CM मनोहर बोले - विजन 2047 को ध्यान में रखकर तैयार किया बजट
Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button