राजनीतिराज्यराष्ट्रीय

रायपुर में आज बिजली दफ्तर घेरेगी भाजपा बिल में बढ़ोतरी का विरोध पूर्व मंत्री मूणत समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता करेंगे घेराव

रायपुर में आज बिजली दफ्तर घेरेगी भाजपा बिल में बढ़ोतरी का विरोध पूर्व मंत्री मूणत समेत सैंकड़ों कार्यकर्ता करेंगे घेराव

मंगलवार को भाजपा भारतीय जनता पार्टी बिजली दफ्तर का घेराव करेगी। दोपहर के वक्त सैंकड़ों कार्यकर्ताओं को लेकर खुद पूर्व मंत्री राजेश मूणत सड़क पर उतरेंगे। रायपुर के गुढ़ियारी स्थित बिजली दफ्तर का घेराव नेता करेंगे। भाजपा बिजली बिल में बढ़ोतरी, सुरक्षा निधि के नाम पर हो रही वसूली का विरोध कर रही है।

राजेश मूणत ने बताया कि पूरे प्रदेश में और रायपुर के गुढ़ियारी इलाके में भी बिजली में मनमानी कटौती हो रही है। जनता बिजली बिल में बढ़ोतरी, सुरक्षा निधि के नाम से अवैध वसूली से परेशान है।

इसलिए भारतीय जनता युवा मोर्चा के बैनर तले ये विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। इस विरोध प्रदर्शन में शामिल होने शहर के सभी मंडलों से मोटरसाइकिल रैली की शक्ल में नेता गुढ़ियारी पहुंचेंगे।

4 साल में 4 बाद दाम बढ़े

पूर्व मंत्री मूणत ने कहा कि बिजली दफ्तर बिल हाफ का वायदा कर सत्ता में काबिज हुई कांग्रेस ने 4 साल में 4 बार बिजली बिल में वृद्धि कर दी। मेन्टेन्स के नाम पर लगातार बिजली में कटौती जारी है, अब सुरक्षा निधि के नाम पर मनमानी वसूली की जा रही है, जिससे आम जनता त्रस्त है। रायपुर के गुढ़ियारी स्थित बिजली दफ्तर का घेराव नेता करेंगे।

उन्होंने कहा कि बिजली बिल बाटने के काम मे कांग्रेस के नेताओं को लगाया गया है, अस्थायी कनेक्शन के लिए आम जनता ठेकेदारों पर मजबूर है, इतना ही नहीं बिजली कम्पनी में रिश्तेदार मलाई खा रहे हैं।

निकलेगी बाइक रैली

इस विरोध प्रदर्शन में युवा मोर्चा की ओर से पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के भाजपा नेता और कार्यकर्ता शामिल होंगे। दोपहर 12 बजे युवा मोर्चा की रैली निकलेगी, जो तात्यापारा मंडल रामदरबार चौक से, डीडी नगर मंडल दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम से,रामसागरपारा मंडल भारत माता चौक से रैली के रूप में निकलेंगे और गुढ़ियारी स्थित पहाड़ी चौक में एकत्रित होकर बिजली दफ्तर का घेराव करेंगे।

पूरे प्रदेश में चल रहा आंदोलन

पूरे प्रदेश में अलग-अलग तारीखों पर भाजपा ने ये विरोध प्रदर्शन बिजली के मुद्दे पर किया है। बस्तर जिले में भी हाल ही में ऐसा विरोध प्रदर्शन हुआ था। युवा मोर्चा के नेताओं ने पिछले सप्ताह किलेपाल विद्युत मंड़ल कार्यालय का घेराव किया था।

युवा मोर्चा के सदस्यों ने कोडेनार के बाजार से पैदल यात्रा निकालकर किलेपाल विद्युत मंड़ल कार्यालय पहुंचकर घेराव किया था।

राजनांदगांव जिले में भी भाजपा ने विद्युत विभाग के कार्यालय का घेराव किया। उन्होंने सुरक्षा निधि के साथ अधिक बिजली बिल लेने पर उपभोक्ताओं को हो रही परेशानी को लेकर विरोध-प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपा। बीजेपी के विरोध-प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए थे।

जशपुर में बिजली बिल के विरोध में भाजपा ने विद्युत मंडल कार्यालय का घेराव कर जमकर नारेबाजी की। भाजपा का आरोप था कि बिजली बिल हाफ करने का सब्जबाग दिखाकर बहुमत हासिल करने वाली कांग्रेस अब बिजली उपभोक्ताओं के जेब में डाका डालने पर तुली हुई है।

कांग्रेस ने बताया है नौटंकी

बिजली बिल को लेकर भाजपा के आंदोलन को कांग्रेस ने भाजपा की नई नौटंकी बताया हैं। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में आज भी देश की सबसे सस्ती बिजली बिल मिलती है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश का एक मात्र ऐसा राज्य है, जहां 400 यूनिट तक बिजली का दाम आधा लगता है। देश भर के भाजपा शासित राज्यों यूपी, एमपी जैसे राज्यो में तो जनता को बमुश्किल 15 घंटे बिजली मिलती है।

कांग्रेस की सरकार बनने के बाद भूपेश सरकार में 2 बार बिजली के दामों में कटौती की गई है। राज्य में घरेलू बिजली के दामों के साथ उद्योगो की भी बिजली के दामों बढ़ोत्तरी मात्र कुछ पैसो की तब की गयी थी जब मोदी सरकार ने विद्युत निर्माण कंपनी को महंगा, विदेशी कोयला उपयोग का फरमान जारी किया।

रमन सरकार ने 15 साल में 14 बार बिजली के दाम बढ़ाया था। जिसमें 5 बार तो वी.सी.ए के नाम पर बिजली के दाम बढ़ाए गए थे।

Sapna

Sapna Yadav News Writer Daily Base News Post Agency Call - 9411668535, 8299060547, 8745005122 SRN Info Soft Technology www.srninfosoft.com

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button