अंतर्राष्ट्रीय

युद्ध में धनुष बाण चला रहे रूसी सैनिक सोशल मीडिया पर लोगों ने उड़ाया मजाक

जंग में रूसी सैनिक धनुष-बाण का इस्तेमाल कर रहे हैं। युद्ध में धनुष बाण चला रहे रूसी सैनिक सोशल मीडिया पर लोगों ने उड़ाया मजाक  इतना ही इन सैनिकों के पास ‘इमरजेंसी यूज’ के लिए बंदूक है। यानी जब धनुष से बात नहीं बनेगी तब इस बंदूक का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। नेटिजन्स इसका काफी मजाक उड़ा रहे हैं।

यूक्रेन इंटर्नल अफेयर मिनिस्टर के सलाहकार एंटोन गेराशचेंको ने एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में एक रूसी सैनिक धनुष-बाण के साथ दिख रहा है। एंटोन ने लिखा- ये बशकिरिया शहर में मौजूद एक रूसी सैनिक है। उसके पास घनुष-बाण के साथ बंदूक भी है। क्या ये घुड़सवार सेना है?

3 लाख लोगों ने देखा पोस्ट

धनुष-बाण के साथ तैनात इस रूसी सैनिक की तस्वीर वाले पोस्ट को करीब 3 लाख 49 हजार लोग देख चुके हैं। तीन हजार लोगों ने इस पोस्ट को लाइक भी किया है।

सोशल मीडिया पर लोग इसका माजक भी उड़ा रहे हैं। एक यूजर ने तंज कसते हुए लिखा- रूस की हाई-टेक आर्मी। दूसरे यूजर ने लिखा- मुझे लगता है कि इस रूसी सैनिक की तीरंदाजी में रुचि है। लेकिन मेरे छोटे बेटे का धनुश इससे ज्यादा मजबूत है।

एक अन्य यूजर ने लिखा- देखकर खुशी हुई की रूसी सेना के पास 21वीं सदी के बेस्ट हथियार हैं। एक यूजर ने तो फिल्म से जुड़ा कमेंट कर दिया। उसने लिखा- जब आपने अवतार मूवी एक से ज्यादा बार देख ली हो। दरअसल, जेम्स कैमरन की ये फिल्म साइंस-फिक्शन बेस्ड है।

यह भी पढ़ें ...  कनाडा में राम मंदिर पर लिखे भारत विरोधी नारे, एक साल में चौथी ऐसी घटना, अफसरों ने की कार्रवाई की मांग

सोशल मीडिया पर इससे जुड़ा एक वीडियो भी वायरल हुआ। इसे शेयर करते हुए एक यूजर ने लिखा- अब रूसी सैनिकों को युद्ध में इस्तेमाल होने वाले हथियारों पर जंग लगने की चिंता नहीं करनी होगी। क्योंकि उसके पास धनुश-बाण है। खैर अभी तक ये नहीं पता है कि वो युद्ध में तलवारें और भाला इस्तेमाल करने वाले हैं या नहीं।

यूक्रेन से जंग में सर्दी को हथियार बना रहा रूस हिटलर नेपोलियन मौसम की वजह से जीती बाजी हारे

यूक्रेन में जैसे-जैसे तापमान गिरेगा वैसे-वैसे युद्ध के बीच फंसे लोगों के लिए जिंदगी जीना और मुश्किल हो जाएगा। वजह है रूस की तरफ से हो रहे मिसाइल अटैक। इन हमलों से पूरे यूक्रेन में एनर्जी सप्लाई को तबाह किया जा रहा है। इसके चलते पिछले हफ्ते कीव के 70% इलाके में बिजली-पानी नहीं था।

रूस पर एक और बड़ा आरोप बच्चों को सेना में भर्ती कर रहा रूस ताकि यूक्रेन में मारे गए सैनिकों की कमी को पूरा कर सके

यह भी पढ़ें ...  IEA Report: 2025 तक दुनिया की आधी बिजली खर्च करेगा एशिया

रूस पर बच्चों को अपनी सेना में भर्ती करने का आरोप लगा है। ह्यूमन राइट्स ऑर्गनाइजेशन ने आरोप लगाया है कि रूस 16 साल के बच्चों को सेना में भर्ती कर रहा है। एक अधिकारी ने कहा- क्रेमलिन पूर्वी यूक्रेन में अपने सैनिकों की संख्या बढ़ाने के लिए बच्चों की भर्ती का सहारा ले रहा है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button