राज्यराष्ट्रीय

सेंट्रल जू अथॉरिटी को लिखा पत्र प्रजनन नहीं कर पा रही पूंछ कटी बाघिन को दिल्ली भेजेंगे

सेंट्रल जू अथॉरिटी को लिखा पत्र प्रजनन नहीं कर पा रही पूंछ कटी बाघिन को दिल्ली भेजेंगे मुकुंदपुर में ‘महाराजा मार्तंड सिंह जूदेव व्हाइट टाइगर सफारी एंड जू’ की पूंछ कटी बाघिन सोनम अब दिल्ली जू में जाएगी। मप्र वहां से एक साल की बाघिन लाने की तैयारी कर रहा है। इस युवा बाघिन के आने के बाद ब्रीडिंग की तैयारी होगी। पूंछ कटी बाघिन लंबे समय से प्रजनन नहीं कर पा रही है।

मप्र ने सेंट्रल जू अथॉरिटी ऑफ इंडिया को पत्र लिख दिया है। चूंकि दिल्ली जू में जन्म के बाद तीन शावक जिंदा हैं, जो 7-8 माह के हो गए हैं।

जैसे ही यह एक साल के होंगे, उनमें से एक बाघिन को मप्र लाया जाएगा। मप्र में मुकुंदपुर ऐसा पहला केंद्र होने वाला है, जहां रेस्क्यू सेंटर, जू और सफारी के साथ अब ब्रीडिंग भी कराई जाएगी। इस समय मुकुंदपुर में व्हाइट टाइगर में दो फीमेल और एक मेल टाइगर है।

यह भी पढ़ें ...  देश के अनोखे चर्च की कहानी154 साल पहले यहीं से छत्तीसगढ़ में फैला ईसाई धर्म

इसके अलावा एक जोड़ा बब्बर शेर का और यलो टाइगर भी हैं। पूर्व मंत्री व विधायक राजेंद्र शुक्ला ने बताया कि सफेद शेर हमारी पहचान है, इसलिए यहां उनकी ब्रीडिंग का प्रयास किया जा रहा है।

पिछले साल यहां 2.7 लाख पर्यटक आए

डीएफओ सतना विपिन पटेल ने बताया कि दिल्ली जू और ग्वालियर जू में प्रजनन हुआ था, लेकिन दिल्ली जू में तीन शावक सर्वाइव कर रहे हैं। तीन से चार माह बाद उनमें से एक लाने की स्थिति बन जाएगी।

मुकुंदपुर ऐसा रेस्क्यू सेंटर हैं, जहां इस साल 2022 में 3.5 लाख पर्यटकों के आने की संभावना है। सेंट्रल जू अथॉरिटी को लिखा पत्र प्रजनन नहीं कर पा रही पूंछ कटी बाघिन को दिल्ली भेजेंगे पिछले साल यह आंकड़ा 2.7 लाख पर पहुंचा था। मुकुंदपुर सफारी बनने के बाद 2016-17 से लेकर अभी तक 7.91 करोड़ की आय हुई है। यहां 23 प्रजाति के 159 वन्यजीव हैं।


यह भी पढ़ें ...  राजस्थान में बदलेगा राज या रिवाज? चार राज्यों के चुनावी नतीजे आज,वोटों की गिनती जारी

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button