राज्यराष्ट्रीय

दिल्ली के जंतर मंतर पर पहलवानों का प्रदर्शन, बजरंग पुनिया ने वृंदा करात को मंच से उतारा

भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ देश के महिला पहलवानों ने मोर्चा खोल दिया है। सिंह और कुछ कोच पर ओलिंपिक विजेता खिलाड़ियों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। दिल्ली के जंतर-मंतर पर 200 से ज्यादा खिलाड़ी बुधवार यानी 18 जनवरी से धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। गुरुवार को भी उनका प्रदर्शन जारी रहा।

 

बजरंग पुनिया ने वृंदा करात को मंच से उतारा
इधर, धरने के दौरान कम्युनिस्ट पार्टी की नेता वृंदा करात स्टेज पर चढ़ गई। उनसे बजरंग पुनिया ने नीचे आने का आग्रह किया। बजरंग ने कहा कि, प्लीज इस मुद्दे को राजनितिक मत बनाइए। हमारी लड़ाई फेडरेशन से है न कि सरकार से।

पहलवानों के प्रदर्शन पर बोले हरियाणा के सीएम
इस मामले में हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हमारी महिला एथलीटों की सुरक्षा बहुत महत्वपूर्ण है और हम इसे गंभीरता से लेते हैं। हम उनका मनोबल कम नहीं होने देंगे। एथलीटों द्वारा उठाए गए सभी मुद्दों को गंभीरता से लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें ...  भारतीय हॉकी टीम ने जीती एशियन चैंपियनशिप ट्रॉफी,सीएम भगवंत मान ने दी बधाई

 

22 जनवरी को अयोध्या में संघ की बैठक, पद छोड़ सकते हैं सिंह
न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, कुश्ती महासंघ की एग्जीक्यूटिव कमेटी और सालान बैठक (AGM) 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाली है। संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह भी इस बैठक में शामिल होंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बृजभूषण शरण सिंह इस बैठक में अपने इस्तीफे की घोषणा कर सकते हैं।

 

कर्नाटक के कलबुर्गी जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ढोल बजाया। इससे पहले उन्होंने कहा कि कर्नाटक सरकार ने सुशासन और सद्भाव का वो रास्त चुना है जो सदियों पहले भगवान बस्वेश्वरा ने देश-दुनिया को दिया था। भगवान बस्वेश्वरा ने अनुभव मंडपम जैसे मंच से सामाजिक न्याय और लोकतंत्र का एक मॉडल दुनिया को दिया। समाज के हर भेद-भाव से ऊपर उठकर सबके सशक्तिकरण का मार्ग उन्होंने हमें दिखाया था।

Source :

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button