चंडीगढ़

Indore News: हैदराबाद की तर्ज पर बनेगा इंदौर में दस हजार की क्षमता का कन्वेंशन सेंटर

सुपर कारिडार की स्कीम-172 पर नया कन्वेंशन सेंटर आकार लेगा। पिछले दिनों हमने दौरा कर जमीन तय कर ली है। अब उसकी प्लानिंग पर काम होगा। हैदराबाद में बने सेंटर को देखने भी एक टीम जाएगी, ताकि कन्वेंशन सेंटर में आधुनिक सुविधाएं प्राप्त हो सके।

प्रदेश सरकार मान चुकी है कि बड़े आयोजनों के लिए इंदौर से बेहतर जगह मध्य प्रदेश में दूसरी नहीं है, लेकिन यहां बड़ी क्षमता के कन्वेंशन सेंटर नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर विकास प्राधिकरण को दस हजार की क्षमता वाला कन्वेंशन सेंटर बनाने के लक्ष्य दिया है। प्राधिकरण ने सुपर कारिडोर पर जमीन खोज ली है। जल्दी ही एक टीम हैदराबाद भेजी जाएगी। वहां ज्यादा बैठक क्षमता का अंतरर्राष्ट्रीय स्तर का कन्वेंशन सेंटर है। उसके बाद इंदौर में निर्माण की प्रक्रिया शुरू होगी।

जमीन तय, प्लानिंग बनने का काम होगा शुरू
जयपाल सिंह चावड़ा ने कहा कि सुपर कारिडार की स्कीम-172 पर नया कन्वेंशन सेंटर आकार लेगा। पिछले दिनों हमने दौरा कर जमीन तय कर ली है। अब उसकी प्लानिंग पर काम होगा। हैदराबाद में बने सेंटर को देखने भी एक टीम जाएगी, ताकि कन्वेंशन सेंटर में आधुनिक सुविधाएं प्राप्त हो सके।

यह भी पढ़ें ...  मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सिंगापुर ट्रेनिंग के लिए जाने वाले प्रिंसिपलों के दूसरे बैच को दिखाई हरी झंडी

प्रवासी सम्मेलन में छोटा पड़ गया था बीसीसी
इंदौर में जनवरी माह मे प्रवासी भारतीय सम्मेलन आयोजित किया गया। ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में आयोजित सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आए थे। हॉल में दो हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई थी, लेकिन भीड़ ज्यादा हो गई। कई प्रवासी भारतीयों को हॉल में प्रवेश नहीं मिल पाया था। तब सम्मेलन के दौरान ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रवेश से वंचित मेहमानों से माफी मांगी थी और प्राधिकरण अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा को दस हजार की क्षमता का कन्वेंशन सेंटर बनाने के लिए कहा था। अगली इन्वेस्टर्स समिट तक सेंटर बनाने का लक्ष्य आईडीए ने रखा है।

क्यों जरुरी है बड़ा कन्वेंशन सेंटर
-इंदौर मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा शहर है। दो साल में प्रदेश सरकार इन्वेस्टर्स समिट इंदौर में करवाती है। जिसमें हजारों निवेशक इंदौर आते है।
– कई निजी आयोजन व राष्ठ्री स्तर की कांफ्रेंस इंदौर में होती है। उसके लिए भी बड़ा हॉल जरुरी है।- कई बड़ी प्रदर्शनियां भी इंदौर में लगती है और उसमें शामिल होगा इंदौर में रुकते है। इंदौर में १०० से ज्यादा बड़े छोटे होटल है। ऐसे में यहां स्टे में लोगों को दिक्कत नहीं आती है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button