चंडीगढ़

विपक्ष का जातीय कार्ड हरियाणा में भी होगा फेल-सुनीता दांगी

चंडीगढ़,6 दिसंबर। भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष सुनीता दांगी ने कहा की कांग्रेस नेताओं में सत्ता सुख पाने के लिए छटपटाहट इतनी ज्यादा है की वो देश को जातियों में बाँट समाज में वैमनस्य पैदा कर देना चाहते हैं। तीन राज्यों छत्तीसगढ़,मध्यप्रदेश तथा राजस्थान की हार से भी यह नेता जनता के बदल चुके मूड में बदलाव को भांप नहीं पा रहे हैं। वास्तव में इसका कारण है की कांग्रेस यही काम शुरुआत से करती आ रही है और इसी काम से उसने हमेशा सत्ता पाई थी। धार्मिक आधार पर तुष्टिकरण का कार्ड इसका ज्वलंत उदाहरण है। कांग्रेस काल में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह तो कहते थे की देश के संसाधनों पर पहला हक़ मुस्लिमों का है। कभी जातीय आधार पर आरक्षण की बात कभी विभिन्न जातियों के मुख्यमंत्री बनाने की बात करते हैं लेकिन यह नहीं कहते की अपना पद हरियाणा के किसी गरीब,वंचित वर्ग के आम व्यक्ति को देंगे।

 

कांग्रेस और भाजपा का तुलनात्मक अध्ययन कर रहा प्रदेश का हर नागरिक
प्रदेशाध्यक्ष सुनीता दांगी ने कहा की आज मोदी-मनोहर की सरकार में सभी वर्गों के गरीब, वंचित लोगों के बच्चों को उनकी योग्यता तथा प्राथमिकता के आधार पर सरकारी नौकरियाँ दी जा रही है न की अपने अपने लोगो को बंदरबांट के आधार पर। पिछले 9 वर्षों में मनोहर सरकार ने 1 लाख 20 हजार से ज्यादा सरकारी नौकरियां योग्य गरीब परिवारों के बच्चों को पारदर्शी तरीके से दे साबित कर दिया है की सुशासन और कुशासन में क्या भेद होता है।किसान पर बोलते हुए उन्होंने कहा की पहले केवल गेंहूं और धान पर एमएसपी दी जाती थी लेकिन पहली बार मनोहर सरकार ने 12 दूसरी फसलों पर भी एमएसपी देकर किसान हित वाली पार्टी अपने को साबित किया है।

यह भी पढ़ें ...  रेल मंत्री के बाद स्वास्थ्य मंत्री! ये क्या हुआ ?

 

भ्रष्टाचार पर रोक से भ्रष्टाचारियों के पेट में दर्द
आज डीबीटी के माध्यम से पैसा सीधा किसानों, बुजुर्गों तथा महिलाओं की पेंशन उनके बैंक खाते में बिना किसी झंझट के पहुँच जाती है। इससे न केवल जनता का पैसा सीधा उन्हें मिलता है बल्कि भ्रष्टाचार पर रोक लगी है और जनता को धक्के खाने से आराम मिला है।

 

महिलाओं का विश्वास जीता
सुनीता दांगी ने कहा की मोदी मनोहर सरकार ने महिलाओं को स्वावलंबन,आत्मसम्मान तथा स्वास्थय के प्रति जागरूक किया बल्कि उन्हें अपनी महिला हितैषी नीतियों द्वारा संबल प्रदान करने का काम किया है। देश प्रदेश की महिलाओ को उनका राजनीतिक हक़ दिया है। प्रदेश में आज लिंग अनुपात में सुधार होना इसका उदाहरण है की लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जन हितैषी नीतियों पर पूर्ण विश्वास है।

 

महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं में जीत से नया जोश भरा
सुनीता दांगी ने कहा की तीन राज्यों की बम्पर जीत में महिलाओं के योगदान को देख हरियाणा महिला मोर्चा की कार्यकर्ता जोश से लबरेज है। इसका नजारा प्रदेश के सभी 22 जिलों में देखने को मिल रहा है। हरियाणा में मनोहर सरकार की हैट्रिक को लेकर महिला मोर्चा कृतसंकल्प है।

Hindxpress.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button